मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी पिरामल परिवार की बहू बनने जा रही हैं। आनंद पिरामल के साथ उनकी सगाई हो चुकी है।

ईशा और आनंद लंबे समय से दोस्त रहे हैं और उनके परिवारों के बीच 40 सालों से गहरा रिश्ता है।

ऐसे में फिल्मी अंदाज में दो बड़े उद्योग घराने अंबानी परिवार और पीरामल परिवार ईशा अंबानी और आनंद अंबानी की सगाई के साथ ही अपनी दशकों पुरानी दोस्ती को रिश्तेदारी में बदलने जा रहे हैं।

ऐसे में मुकेश अंबानी की समधिन स्वाति पिरामल ने एक मजेदार खुलासा किया है।

उन्होंने बताया कि एक वक्त मुकेश अंबानी और नीता अंबानी का रोमांस पिरामल हाउस में ही परवान चढ़ा था।

एक कार्यक्रम के दौरान स्वाति ने पुराने दिनों का एक किस्सा सुनाते हुए बताया कि किस तरह मुकेश अंबानी, नीता अंबानी से मिलने के लिए घंटों ड्राइव करने के बाद उनके घर पहुंचते थे।

वह मुकेश अंबानी और नीता अंबानी की लव स्टोरी पर लिखी गई एक किताब की लॉन्चिंग के दौरान मौजूद थी।

इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक, इसी दौरान स्वाति पिरामल ने बताया कि उस वक्त मुकेश अंबानी के पास एक हरे रंग की फिएट कार थी और वह करीब 3 घंटे ड्राइव करके पातालगंगा से मुंबई सिर्फ नीता अंबानी से मिलने आते थे।

दरअसल, उस वक्त अंबानी परिवार पातालगंगा में एक प्लांट लगा रहा था, जिसकी देखरेख की जिम्मेदारी मुकेश अंबानी संभाल रहे थे। मुकेश और नीता अंबानी इसके बाद पीरामल हाउस में मिला करते थे। 

हर दिन जब भी मुकेश और नीता उनके घर आते थे तो अजय, नीता से पूछते थे कि क्या आज मुकेश ने तुम्हारा हाथ पकड़ा?

स्वाति पिरामल ने उन दिनों को याद करते हुए कहा कि वह कमाल के दिन थे। पिरामल परिवार की तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि आनंद ने ईशा को महाबलेश्वर के एक मंदिर में शादी का प्रस्ताव दिया था। 

इसके बाद दोनों परिवारों ने साथ में लंच किया। ईशा और आनंद की शादी दिसंबर में होनी तय हुई है।

मुकेश अंबानी ने क्यों की 800 रु की नौकरी करने वाली नीता से शादी