नीता अंबानी को डॉक्‍टरों ने क‍हा था कभी नहीं बन सकती हैं मां, जानिए फिर कैसे हुए दो जुड़वा बच्‍चे

नीता अंबानी के शादी के बाद सात साल तक बच्‍चे नहीं हुए थे। डॉक्‍टरों ने तो यहां तक कह दिया था कि वो कभी मां नहीं बन पाएंगी।

सिलेब्रिटीज ने खुलकर अपनी इनफर्टिलिटी के बारे में बात करती हैं। इस लिस्‍ट में नीता अंबानी का नाम भी शामिल है। तीन बच्‍चों की मां नीता अंबानी को कंसीव करने में बहुत दिक्‍कतों का सामना करना पड़ा था।

एक इंटरव्‍यू के दौरान 55 वर्षीय नीता अंबानी ने बताया कि वो हमेशा से ही मां बनने का सपना देखती थीं। वो चाहती थीं कि वो भी मां बनें और अपने बच्‍चे को गोद में खिलाएं। लेकिन उनके लिए मां बनने का सफर इतना आसान नहीं था।

23 साल की उम्र में नीता अंबानी को डॉक्‍टर ने कह दिया था कि वो कभी कंसीव नहीं कर पाएंगी। इस बात को सुनकर वो पूरी तरह से टूट गईं थीं।

नीता अंबानी ने बताया कि शादी के कुछ सालों बाद उन्‍हें डॉक्‍टर ने कहा कि वो कभी बच्‍चे पैदा नहीं कर पाएंगी। 

नीता बताती हैं कि स्‍कूल में उन्‍होंने मां बनने पर एक निबंध लिखा था और 23 साल की उम्र में उन्‍हें पता चला कि वो कभी कंसीव नहीं कर पाएंगी।

नीता अंबानी ने कहा कि ये सुनकर वो बिलकुल टूट गई थीं। हालांकि, अपनी करीबी दोस्‍त डॉ. फिरुजा पारिख की मदद से उन्‍होंने पहली बार जुड़वा बच्‍चे कंसीव किए।

इतनी मुश्किलों के बाद नीता अंबानी को मां बनने का सुख तो मिला लेकिन उनके दोनों बच्‍चों का जन्‍म दो महीने पहले ही हो गया था। सात महीने की प्रेग्‍नेंसी में ही नीता अंबानी ने की डिलीवरी हो गई थी।

खुशी की बात यह थी कि इसके तीन साल बाद ही नीता अंबानी ने नैचुरली कंसीव किया था और उनके एक बेटा पैदा हुआ जिसका नाम उन्‍होंने अनंत अंबानी रखा। इस समय नीता का वजन काफी बढ़ गया था जिसे लेकर वो काफी परेशान रहने लगी थीं।

नीता अंबानी की बेटी ईशा अंबानी ने कुछ महीने पहले एक इंटरव्‍यू में कहा था कि वो और उनका जुड़वा भाई आकाश आईवीएफ बेबी हैं। माता-पिता की शादी के सात साल बाद उनकी मां नीता अंबानी आईवीएफ की मदद से मां बनी थीं।

बच्‍चों के होने के बाद नीता ने अपना सारा समय बच्‍चों की परवरिश में निकाल दिया और दोनों बच्‍चों के 5 साल के होने के बाद उन्‍होंने अपना काम वापस ज्‍वॉइन किया।

नीता अंबानी की इस कहानी से सीख मिलती है कि हमें जिंदगी में कभी हार नहीं माननी चाहिए। अगर एक रास्‍ता बंद होता है तो दूसरा रास्‍ता जरूर खुल जाता है और ऐसी कोई भी परेशानी नहीं है जिसका कोई हल ना हो।

अगर आप भी इनफर्टिलिटी से जूझ रही हैं तो किसी अच्‍छे गायनेकोलोजिस्‍ट को दिखाएं और अपना इलाज करवाएं।

पिता के लिए Mukesh Ambani ने बीच में छोड़ी थी पढ़ाई, कुछ दिलचस्प बातें