अल्लू अर्जुन की 'पुष्पा: द राइज' के लिए दीवानगी अभी भी जिंदा है। ऐसे में आइए जानें 'पुष्पा: द राइज' से जुड़े अनकहे किस्से

अल्लू अर्जुन की 'पुष्पा: द राइज' के लिए दीवानगी अभी भी जिंदा है। ऐसे में आइए जानें 'पुष्पा: द राइज' से जुड़े अनकहे किस्से

1. लाल चंदन की तस्करी की कहान

इस फिल्म में अल्लू अर्जुन ने 'पुष्पा' की भूमिका निभाई थी। फिल्म की कहानी आंध्र प्रदेश की पहाड़ियों में लाल चंदन की तस्करी पर आधारित है।

1. लाल चंदन की तस्करी की कहानी

फिल्म निर्माताओं ने फिल्म को दो भागों में प्रदर्शित करने का फैसला किया

'पुष्पा' के निर्माता वाय रविशंकर ने एक interview में कहा कि 'पुष्पा' की कहानी बहुत लंबी है और ढाई घंटे में पूरी कहानी बताना मुश्किल है। ऐसे में फिल्म को दो हिस्सों में दिखाया जाएगा

'पुष्पा' के दूसरे पार्ट की तैयारी शुरू हो गई है और बताया जा रहा है कि 30 टक्के काम पूरा हो चुका है.

'पुष्पा' की 80 टक्के शूटिंग के बाद निर्माताओं ने इसे दूसरे हिस्से में बनाने का फैसला किया।

2. पुष्पा का दूसरा पार्ट

'पुष्पा' की ज्यादातर शूटिंग आंध्र प्रदेश के मारेदुमिली जंगल में हुई है। ऐसे में फिल्म की पूरी टीम को जंगल में ले जाया गया।

3. प्रतिदिन 300 वाहनों का प्रयोग

'पुष्पा' की ज्यादातर शूटिंग आंध्र प्रदेश के मारेदुमिली जंगल में हुई है। ऐसे में फिल्म की पूरी टीम को जंगल में ले जाया गया।

टीम को जंगल में ले जाने के लिए निर्माताओं ने एक दिन में 300 वाहनों का इस्तेमाल किया। पहले दृश्य में चंदन का एक बड़ा बंडल दिखाया गया है और इसके लिए अधिक भीड़ की आवश्यकता होती है, जिसके लिए 1500 लोग एकत्र हुए थे।

फिल्म 'पुष्पा' को रोजाना 500 लोगों की जरूरत थी। एक गाने में 1000 लोग लगते थे।

लाल चंदन के कारखाने को कला विभाग की सहायता से दिखाया गया है। निर्माताओं को चंदन की तस्करी के परिवहन दृश्यों को फिल्माने में मुश्किल हो रही थी।

4. जंगल में सड़कें बनानी पड़ी

इसकी वजह जंगल में खराब मौसम है। ऐसे में टीम ने कई जगहों पर सफर को सुचारु बनाने के लिए उबड़-खाबड़ रास्ते बनाए थे.

कुछ दिनों तक केरल के जंगलों में भी शूटिंग हुई। इसके लिए टीम चंदन का कृत्रिम बंडल लेकर केरल के जंगल में गई।

5. पुलिस ने पकड़ा असली चंदन

जब दस्ता वहां से लौट रहा था तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। टीम ने बताया कि वे शूटिंग के लिए कृत्रिम चंदन का इस्तेमाल कर रहे थे।

5. पुलिस ने पकड़ा असली चंदन

अल्लू अर्जुन को 'पुष्पा' बनाने में कई घंटे लग जाते थे। अल्लू अर्जुन को पुष्पा का मेकअप करने में दो घंटे लगते थे।

6. अल्लू अर्जुन को पुष्पा बनने में दो घंटे लगे

फिल्म में सिनेमैटोग्राफर की भूमिका अहम है। वह फिल्म के दृश्यों को जीवंत करते हैं। ऐसे में सिनेमैटोग्राफर मिरोस्ला कुबा ब्रोजेक ने 'पुष्पा' के सीन को शानदार बनाया.

7. पोलंड सिनेमॅटोग्राफर

ब्रोझेक ने पोलैंड से एक छायाकार के रूप में प्रशिक्षण लिया है और लंबे समय से दक्षिणी फिल्मों के लिए काम कर रहे हैं।

7. पोलंड सिनेमॅटोग्राफर

पुष्पा की फिल्म की पहली झलक अप्रैल 2021 में देखने को मिली थी। अल्लू अर्जुन ने फिल्म के टीजर में अपनी छाप छोड़ी है।

8. 'पुष्पा' की पहली झलक ने बनाया रिकॉर्ड

पुष्पा की फिल्म की पहली झलक अप्रैल 2021 में देखने को मिली थी। अल्लू अर्जुन ने फिल्म के टीजर में अपनी छाप छोड़ी है।

8. 'पुष्पा' की पहली झलक ने बनाया रिकॉर्ड

मनोरंजन की खबरों के लिए यहां क्लिक करें...