रतन नवल टाटा एक जानी-मानी हस्ती हैं जिन्हें किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। भारत में एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जिसने यह नाम न सुना हो।

कई उद्यमी उन्हें एक उदाहरण के रूप में देखते हैं। भले ही उनके पास एक धनी परिवार है, उन्होंने कभी भी सत्ता या धन को हल्के में नहीं लिया। 

1937 में जन्मे रतन टाटा के पिता नवल टाटा जमशेदजी टाटा के दत्तक पोते थे। उनकी माता का नाम सूनी टाटा था।

रतन टाटा जमशेदजी टाटा के परपोते हैं जिन्होंने टाटा समूह की स्थापना की थी।

उनके माता-पिता 1948 में अलग हो गए जब वह सिर्फ 10 साल के थे। उनका पालन-पोषण उनकी दादी नवाजबाई टाटा ने किया था।

रतन टाटा अविवाहित क्यों थे जाने के लिए यहाँ क्लिक करे

उनके पास दो पालतू कुत्ते हैं जिनकी वो बहुत प्यार से देखभाल करते हैं उनके कुत्तों का नाम टिटो और मैक्सिमस है।

2009 में, उन्होंने टाटा नैनो कार की कल्पना की, जो भारत में 1 लाख रुपये की सबसे सस्ती कार थी। उन्होंने अपना वादा निभाया।

रतन टाटा को फ्लाइट्स उड़ाना बहुत पसंद है। वह एक कुशल पायलट हैं। रतन टाटा 2007 में F-16 फाल्कन उड़ाने वाले पहले भारतीय थे।

First job

रतन टाटा की पहली नौकरी टाटा स्टील में थी जो उन्होंने वर्ष 1961 में शुरू की थी। उनकी पहली जिम्मेदारी ब्लास्ट फर्नेस और लाइमस्टोन पत्थर के सप्लाई को मैनेज करना था। 

1991 में में टाटा समूह के चेयरमैन बनने के बाद उन्होंने अपने बिजनेस स्किल के जरिए 21 साल में टाटा समूह के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाई। 

1991 में केवल 5.7 बिलियन डॉलर कमाने वाली कंपनी ने 2016 में लगभग 103 बिलियन डॉलर कमाए।

जेआरडी टाटा के जमाने से बॉम्बे हाउस (टाटा का मुख्यालय) में बारिश के दौरान आवारा कुत्तों को शरण दी जाने की परंपरा है। इसके रेनोवेशन के बाद, बॉम्बे हाउस में अब आवारा कुत्तों के लिए एक केनेल बनाया गया है। इस केनेल में कई सारी सुविधाएं है जिसमे कुत्तों के खेलने के लिए खिलौने आदि शामिल हैं। रतन टाटा ने इस परंपरा को जारी रखा है और उन्हें भी कुत्तों से बेहद लगाव है। 

कुत्तों से बहुत प्यार है

चैरिटी के अलावा, कंपनी अपने कर्मचारियों की बेहतरी सुनिश्चित करती है। उन्होंने पूरे भारत में सभी कर्मचारियों के लाभ के लिए एक मॉडर्न पेंशन सिस्टम, मैटरनिटी लीव, मेडिकल फैसिलिटीज और बहुत कुछ पेश किया।

कर्मचारियों की भलाई

रतन नवल टाटा को कारों का बहुत शौक है। उनके पास फेरारी कैलिफ़ोर्निया, कैडिलैक एक्सएलआर, लैंड रोवर फ्रीलैंडर, क्रिसलर सेब्रिंग, होंडा सिविक, मर्सिडीज बेंज एस-क्लास, मासेराती क्वाट्रोपोर्टे, मर्सिडीज 500 एसएल, जगुआर एफ-टाइप, जगुआर एक्सएफ-आर समेत बेहतरीन कार का कलेक्शन है।